WhatsApp double-verification feature: इस बात से कोई इनकार नहीं करेगा कि यह सोशल मीडिया का जमाना है। सोशल मीडिया का जादू पूरी दुनिया में छाया हुआ है। अगर हम मैसेजिंग की बात करें तो दुनिया में काफी सारे मैसेजिंग ऐप्स है लेकिन लोग WhatsApp को ज्यादा सुरक्षित मानते हैं। सारे मैसेजिंग ऐप में से वाट्सऐप के यूजर्स की गिनती सबसे ज़्यादा है क्योंकि ये एक इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप है।

बात करें सुरक्षा की तो आपको बता दें, वाट्सऐप सेफ्टी के लिए काफी सारे नए-नए फीचर लाता रहा है। कंपनी फिर एक बार अकाउंट पहले से ज्यादा सुरक्षित कर रही है। इस बार लॉगिन प्रोसेस पर काम किया जा रहा है। जानकारी के अनुसार, ये नया फीचर एंड्राइड और आईओएस फोन दोनो में काम करेंगा।

WhatsApp double-verification feature

पढ़ें कैसे काम करेगा WhatsApp double-verification feature:

WABetaInfo वाट्सऐप की समाचार, उनके अपडेट और नई सुविधाओं की घोषणा करती है। इनके द्वारा जारी की गई एक के रिपोर्ट के मुताबिक अब यूजर को वाट्सऐप एकाउंट लॉगिन करते वक्त डबल वेरिफिकेशन कोड मिलेगा। WhatsApp कंपनी सेफ्टी के किए काफी सुधार कर रही है। WABetaInfo ने बताया की जब बीटा टेस्टर्स में नया फीचर लाया जाएगा तो दूसरे डिवाइस से लॉगिन करने के लिए डबल वेरिफिकेशन कोड मांगा जाएगा।

ये भी पढ़े:- जानिए आपकी Social Media Apps, कितना रखती हैं आपकी privacy का ख़याल.

6 अंकों से मजबूत होगा कोड वेरिफिकेशन:

जब आप कभी भी नए फोन से वाट्सऐप अकाउंट को लॉगिन करेंगे तो आपको रजिस्टर मोबाइल पर 6 अंकों का वेरिफिकेशन कोड भेजा जाएगा। यह फीचर इसलिए लाया गया है क्योंकि पहले काफ़ी फर्जी लॉगिन के मामले सामने आए थे। जिसके कारण यूजर्स को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। वाट्सऐप लॉगिन प्रोसेस को मजबूत करने की कोशिश कर रहा है, ताकि पर्सनल डिटेल और डाटा किसी गलत हाथ में ना पहुंचे।

WhatsApp double verification feature

WhatsApp double-verification feature: लॉगिन करते ही मिलेगा अलर्ट:

WABetaInfo ने रिपोर्ट में बताया कि जब आप वाट्सऐप अकाउंट को दूसरे मोबाइल से लॉगिन करेंगे तो पहला वेरिफिकेशन सफल होने के बाद दूसरे वेरिफिकेशन के लिए रजिस्टर मोबाइल नंबर पर 6 अंको का ओटीपी भेजा जायेगा। फोन नंबर के मालिक को दूसरे मोबाइल से लॉगिन करने के प्रयास की जानकारी मैसेज नोटिफिकेशन से मिलेगी। इससे वाट्सऐप यूजर को पता चल जाएगा कि दूसरे मोबाइल पर उनका वाट्सऐप अकाउंट चलाया जा रहा है। यदि इसकी ज़रूरत न हो, तो वो छह नंबर के वेरीफिकेशन कोड को शेयर नहीं करेंगे। इससे डाटा चोरी नहीं होगी।

WhatsApp double verification feature

WhatsApp बना ऐसे फ़ीचर वाला पहला इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप:

जैसे कि आपको पहले ही बता दिया गया है कि यह फीचर अभी डेवलपिंग स्टेज पर है। इसे रिलीज करते-करते काफी बदलाव भी देखने को मिल सकते हैं। आपको बता दें कि WhatsApp पहला इंस्टेंट मैसेजिंग एप है, जो डबल वेरिफिकेशन लॉगिन प्रॉसेस का उपयोग करेगा।

Ritesh Singh

रीतेश सिंह को मीडिया क्षेत्र में लगभग 12 साल का अनुभव प्राप्त है। HCL जैसे मल्टीनेशनल कंपनी से करियर की शुरुआत करने के बाद मीडिया क्षेत्र के दिग्गज कंपनियों (Gadgets 360, Ajtak) के साथ टेक बीट्स पर काम करने का अनुभव मिला। अब करीब 2 साल से टेक नगरी वेबसाइट पोर्टल में अपनी सेवा दे रहे हैं। रितेश का मकसद टेक्नोलॉजी और गैजेट्स से जुडी लेटेस्ट और बेहतरीन स्टोरी को लोगों तक पहुंचाना है।