Google ने बढ़ाई सुरक्षा
Google ने बढ़ाई सुरक्षा

Google ने Google I/O 2022 में कई नई चीजों की घोषणा की है, जिसमें आगामी ऑपरेटिंग सिस्टम Android 13, Google की खोज सुविधा में परिवर्तन और YouTube में अतिरिक्त सुविधाएँ शामिल हैं। इनके साथ ही गूगल ने एक नए सिक्योरिटी फीचर की भी घोषणा की है, जो इंटरनेट ब्राउजर और शॉपिंग के अनुभव को सुरक्षित बनाता है।

खाता सुरक्षित नहीं होने पर येलो अलर्ट दिखाई देगा..

Google ने खाता सुरक्षा स्थिति सुविधा की घोषणा की है। यह फीचर बताएगा कि यूजर का अकाउंट सिक्योर है या नहीं। जैसे ही उपयोगकर्ता के खाते में किसी भी सुरक्षा दोष का पता चलता है, उपयोगकर्ता के प्रोफ़ाइल चित्र आइकन पर एक पीला अलर्ट दिखाई देगा, जो दर्शाता है कि खाते की सुरक्षा में कोई समस्या है। जिसे देखकर यूजर अपने अकाउंट को सिक्योर कर पाएगा। ऐप के अलावा, Google कार्य स्थान को फ़िशिंग हमलों से बचाने के लिए एक सुविधा भी ला रहा है। यह सुविधा Google डॉक्स, शीट्स और स्लाइड्स को उपयोगकर्ता के जीमेल के लिंक से फ़िशिंग हमलों से बचाएगी।

ये भी पढे़:- 6G नेटवर्क को लेकर इस कंपनी ने की बड़ी घोषणा दुगनी स्पीड के साथ जल्द किया जाएगा शुरू

Google Increased Security

ऑटोमैटिक 2- स्टेप वेरिफिकेशन (2SV)..

Google ऑटोमेटिक टू स्टेप वेरिफिकेशन फीचर भी ला रहा है। 2-चरणीय सत्यापन सक्रिय नहीं होने पर यह सुविधा उपयोगकर्ता के खाते में स्वतः नामांकित हो जाएगी। यह फीचर यूजर को पासवर्ड रहित अनुभव देगा, जिससे यूजर का अकाउंट हैक होने का खतरा बहुत कम होगा। पिछले साल, Google ने 2SV (टू-स्टेप वेरिफिकेशन) के लिए 150 मिलियन उपयोगकर्ताओं के खातों को ऑटो-एनरोल किया था।

वर्चुअल कार्ड

Google ने I/O 2022 में वर्चुअल कार्ड की भी घोषणा की है। यह सुविधा Android उपकरणों पर Google Chrome ऐप के साथ काम करेगी। वर्चुअल कार्ड सुविधा उपयोगकर्ता के भुगतान विवरण के ऑटोफिल के साथ काम करेगी। ऑटोफिल में, उपयोगकर्ता के वास्तविक क्रेडिट या डेबिट कार्ड नंबर को वर्चुअल नंबर से बदल दिया जाएगा। जिससे यूजर को कार्ड डिटेल्स जैसे सीवीवी आदि को मैन्युअली दर्ज नहीं करना पड़ेगा। हालांकि, फिलहाल यह फीचर यूएस में रोलआउट किया जाएगा।

ये भी पढे़:अगर आपके Facebook खाते के साथ हुई फ़िशिंग; तो हैकर्स के पास होगी ये जानकारियां!

Google Increased Secure Access

सुरक्षित और प्रोटेक्टेड कंप्यूटिंग

Google ने प्रोटेक्टेड कंप्यूटिंग की भी घोषणा की है, जो उपयोगकर्ता डेटा की गोपनीयता और सुरक्षा का ख्याल रखेगा। गूगल ने कहा कि यह फीचर यूजर के डेटा को सिक्योर बनाने में काम आएगा। Google ने आपकी जानकारी को खोज परिणामों से हटाने के लिए एक टूल की घोषणा की है, जिसे कुछ महीनों में रोल आउट किया जाएगा। इसके अलावा यूजर्स अपने हिसाब से विज्ञापनों को कंट्रोल भी कर सकेंगे। यानी आप जिस विज्ञापन को इंटरनेट पर नहीं देखना चाहते, उसे आप मेरा विज्ञापन केंद्र से प्रतिबंधित कर सकेंगे.

Ritesh Singh

रीतेश सिंह को मीडिया क्षेत्र में लगभग 12 साल का अनुभव प्राप्त है। HCL जैसे मल्टीनेशनल कंपनी से करियर की शुरुआत करने के बाद मीडिया क्षेत्र के दिग्गज कंपनियों (Gadgets 360, Ajtak) के साथ टेक बीट्स पर काम करने का अनुभव मिला। अब करीब 2 साल से टेक नगरी वेबसाइट पोर्टल में अपनी सेवा दे रहे हैं। रितेश का मकसद टेक्नोलॉजी और गैजेट्स से जुडी लेटेस्ट और बेहतरीन स्टोरी को लोगों तक पहुंचाना है।